Loading... Please wait...

Amar Goswami

अमर गोस्वामी

जन्म : 28 नवबर 1945 को मुलतान के एक बांग्लाभाषी परिवार में। इलाहाबाद विश्वविद्यालय से हिन्दी साहित्य में स्नातकोत्तर करने के बाद बुढ़ार (शहडोल, म.प्र.) और भरवारी के (इलाहाबाद उ.प्र.) दो महाविद्यालयों में अध्यापन, फिर लम्बे समय से पत्रकारिता में। सम्प्रति गाजियाबाद (उ.प्र.) स्थित ‘रेमाधव पब्लिकेशन्स' के मुख्य संपादक के पद पर कार्यरत। कार्य-अनुभव : कथा-पत्रिका ‘कथान्तर', बाल पत्रिका ‘सपा और कांग्रेस पार्टी द्वारा संचालित ‘भारती फीचर्स' का संपादन। ‘विकल्प' (सं. शैलेश मटियानी), आगामीकल (सं. नरेश मेहता), ‘मनोरमा' (सं. अमरकान्त), ‘गंगा' (सं. कमलेश्वर) ‘सण्डे आबजर्वर' (सं. उदयन शर्मा), ‘अक्षर भारत' और ‘नया ज्ञानोदय' (सं. प्रभाकर श्रोत्रिय) आदि विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में वरिष्ठ पदों पर संपादन सहयोग। प्रकाशित कृतियां : ‘हिमायती', ‘महुए का पेड़', ‘अरण्य में हम', ‘उदास राधोदास', ‘बूजो बहादुर', ‘धरतीपुत्र', ‘महाबली', ‘इक्कीस कहानियां', ‘अपनी-अपनी दुनिया', ‘कल का भरोसा' तथा ‘भूलभुलैया' (सभी कहानी-संग्रह) ‘इस दौर में हमसफर' उपन्यास किताबघर, नयी दिल्ली से प्रकाशित। बच्चों की कहानियों की 16 पुस्तकें तथा एक बाल उपन्यास ‘शाबाश मुन्नू’ प्रकाशित। बांग्ला से हिन्दी में साठ से ज्यादा अनूदित पुस्तकें प्रकाशित।  पुरस्कार-संपादन : केन्द्रीय हिन्दी निदेशालय द्वारा ‘हिमायती' कहानी-संग्रह पर अहिन्दी भाषी हिन्दी लेखक पुरस्कार, 1988, दिल्ली हिन्दी साहित्य सम्मेलन, सनेही मण्डल नोएडा द्वारा ‘नोएडा रत्न' से सम्मानित, 1996 इण्डो रशियन लिटरेरी क्लब, नयी दिल्ली द्वारा बाल लेखन के लिए सम्मानित, 1999 हिन्दी एकेडेमी, दिल्ली द्वारा बाल उपन्यास ‘शाबाश मुन्नू' पुरस्कृत, 2005, उ.प्र. हिन्दी संस्थान लखनऊ द्वारा ‘इस दौर में हम सफर' उपन्यास पर प्रेमचन्द पुरस्कार, 2005