Loading... Please wait...

Atul Soor

अतुल सूर

प्रख्यात इतिहास एवं समाजशास्त्री।  बुद्धिजीवी वर्ग में उनकी विद्वता के प्रति खास समादर। 
प्रकाशित पुस्तकों की संख्या 154। कोलकाता विश्वविद्यालय के प्रतिभाशाली छात्र जीवन के बाद उसी विश्वविद्यालय में दस वर्षों तक प्राध्यापक रहे। ‘प्राचीन भारत का इतिहास एवं नृतत्वं विषय में एम. ए. की परीक्षा में अपने विभाग में पहला स्थान प्राप्त कर स्वर्ण पदक के अधिकारी बने। अर्थशास्त्र में सम्मानपूर्वक डी. एस. सी.। जब तक जीवित रहे समाज जीवन के विविध पक्षों पर निरन्तर रचना-रत रहे। पुरस्कार एवं सम्मान -पश्चिम बंगाल सरकार का 'रवीन्द्र पुरस्कार', 'मधुसूदन' और 'राममोहन पुरस्कार', अखिल भारत बंग साहित्य सम्मेलन द्वारा 'सुशीला देवी बिड़ला पुरस्कार' तथा अन्य ढेरों  पुरस्कार-सम्मान।