Loading... Please wait...

Meenakshi Swami

मीनाक्षी स्वामी

हिरण ने गिल्ली पर डण्डा मारा।
जिराफ, हाथी, मैना, मोर, पतीला खड़े हैं,
गिल्ली प•ड़ने •ो, पर गिल्ली ç•सी •े
हाथ नहीं आयी। •हा¡ गई गिल्ली...?
तभी •ौए •ी •ा¡व-•ा¡व सुनाई दी।
ऊपर देखा तो झगड़ालू •ौआ नीचे उड़ता चला
आ रहा है।
क्वक्वभागो-भागो झगड़ालू •ौआ!ंं सब छुप गये।
रह गया अ•ेला पीतल •ा पतीला।
पानी से भरा भाग नहीं पाया।
क्वक्व•ौन हो तुम? •हा¡ से आये हो?ंं
और ये गिल्ली ç•सने मारी मुझे?
मैं आसमान में उड़•र जा रहा था।ंं
•ौए ने गुस्से से पूछा।
पीतल •ा पतीला हाथ जोड़•र बोला,
क्वक्व•ा•ा गलती मेरी है। मैं शहर से आया हू¡।
मैंने ही •हा था गिल्ली-डण्डा खेलो।
हमने खेल शुरू ही ç•या था और गलती से
आप•ो लग गई।ंं