Loading... Please wait...

Muni Kshmasagar

मुनि क्षमासागर

जन्म ज् 20 दिसबर, 19भ्7, सागर (म.प्र.), शिक्षा ज् एम. टे•., सागर विश्वविद्यालय, पूर्वनाम ज् सिंघई वीरेन्द्र •ुमार, माता ज् श्रीमती आशादेवी, पिता ज् श्री जीवन •ुमर सिंघई, क्षुल्ल• दीक्षा ज् नैनागिरी, 10 जनवरी 1980 ऐल• दीक्षा ज् मुक्तागिरी, 7 नवबर 1980, मुनि दीक्षा ज् नैनागिरी, 20 अगस्त 1982, प्र•ाशित •ृतिया¡ ज् क्वपगडण्डी सूरज त•ं और क्वमुनि क्षमासागर •ी •विताए¡ं (•ाव्य-संग्रह); क्वए•ीभाव स्तोत्रं (अनुवाद); क्वअमूर्त शिल्पीं और क्वआत्मान्वेषीं (संस्मरण); क्वजैनदर्शन-पारिभाषि• •ोशं (सं•लन) तथा क्वगुरुवाणीं (प्रवचन संग्रह)। प्रयात जैन मुनि क्षमासागर •ी •विताए¡ मन •े सहज आनन्द •ी ऐसी •विताए¡ हैं जो जीवन •ी उदात्तता •ो दर्शाती हैं। इन •विताओं •े जरिये जीवन •ो समग्रता में देखने •ी दृष्टि मिलती है और आम जन •ा पथ-प्रदर्शन भी होता है। मुनि जी •ी चुनी हुई 108 •विताओं •ा हिन्दी और अòंग्रेजी में ए• ही जिल्द में भव्य प्र•ाशन। हिन्दी •ी प्रयात लेखि•ा डा. सुनीता जैन द्वारा  अòंग्रेजी से अनुवाद और सपादन।