Loading... Please wait...

Satinath Bhaduri

सतीनाथ भादुड़ी

1906 में बिहार के पूणिüया में जन्म। पिता का नाम श्री इन्दुभूषण भादुड़ी। पूíणया से मैटि्रक पास करने के बाद बिहार विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में एम.ए. तथा कानून की डिग्री। पूर्णिया में वकालत से कर्मजीवन की शुरुआत। बाद में वकालती छोड़कर कांग्रेस के पूर्णकालिक कार्यकर्ता बन गये। गाँव-गाँव जाकर जनजागरण के कार्य में संलग्न तथा साथ ही साथ रचनात्मक लेखन। सरकार के खिलाफ आन्दोलनों में सक्रियता की वजह से भागलपुर में दो वर्ष का कारावास। कालान्तर में कांग्रेस छोड़कर सोशलिस्ट पार्टी में शामिल। यूरोप की सांस्कृतिक यात्रा। रचनाओं का कई विदेशी भाषाओं में अनुवाद। ‘जागरी' ‘ढोंड़ाई चरित मानस', ‘सत्यी भ्रमण काहिनी' आदि प्रमुख रचनाएँ। रवीन्द्र पुरस्कार से सम्मानित। 1965 में निधन।