Loading... Please wait...

Sunita Jain

सुनीता जैन

जन्म : 13 जुलाई, 1941, अम्बाला (हरियाणा)। शिक्षा : अमेरिका में अ¡गे्रजी साहित्य में एम0ए0 तथा पी-एच0डी0। सुनीता जैन हिन्दी की उन गिनी-चुनी रचनाकारों में हैं, जिन्होंने अंग्रेजी में भी समान रूप से लिखा। वे लम्बे अरसे तक आई0आई0टी0 दिल्ली में अंग्रेजी की प्रोफेसर तथा मानविकी विभाग की अध्यक्ष रहीं। कृतियां  : अब तक हिन्दी तथा अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उनकी सत्तर से ज्यादा पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं जिनमें प्रमुख हैं—बोज्यू, सफर के साथी (उपन्यास), या इसलिए (कहानी-संग्रह), रंग-रति, जाने लड़की पगली, दूसरे दिन, प्रेम में स्त्री (कविता) तथा क्षमा, गान्धर्व पर्व (खण्ड काव्य)। 
सम्मान : हरियाणा गौरव, महादेवी वर्मा, निराला नामित अनेक पुरस्कारों के साथ भारत सरकार द्वारा पदमश्री से सम्मानित। अमेरिका में भी उनके अंग्रेजी उपन्यासों और कहानियों को अनेक पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। 8वें विश्व हिन्दी सम्मलेन (न्यूयार्क) 2008 में सम्मानित हिन्दी की पहली कवयित्री। संपर्क : सी-132, सर्वोदय एन्क्लेव, नयी दिल्ली-110017