Loading... Please wait...

Totaram Sanadhay

तोताराम सनाढय

जन्म : फिरोजाबाद के हिरणगऊ गाँव में सन 1875 ई0 को। 26 फरवरी 1893 को कुली के रूप में कलकत्ता से रवाना होकर वे 28 मई 1893 को फीजीद्वीप में पहुंचे। उन्होंने शर्तबन्दी सेवा के बाद एक ब्राह्मण कन्या से विवाह किया और वहीं बस गये। तोताराम जी सरल, धार्मिक और कुशल वक्ता थे। उन्होंने कुलियों की बेहतरी के लिए काफी लड़ाई लड़ी। अप्रैल 1914 में वे अपनी पत्नी के साथ भारत लौटे। यहाँ आकर उन्होंने शर्तबन्द कुलियों पर होने वाले अत्याचारों के विरुद्ध आन्दोलन छेड़ दिया। तोताराम जी से गाँधी जी भी बहुत प्रभावित थे। तोताराम जी के प्रयत्नों से ही गाँधी जी भी उनके आन्दोलन में सहभागी हुए। आखिरकार उग्र विरोध को देखते हुए अंग्रेजी सरकार ने सन 1920 में कुली प्रथा बन्द कर दी। सन 1947 में भारतीयों का यह मुक्तियोद्धा सदा के लिए मौन हो गया।